Sahara Group: सहारा समूह के संस्थापक सुब्रत रॉय का लंबी बीमारी के बाद हुआ निधन

सहारा इंडिया ग्रुप के संस्थापक सुब्रत रॉय का निधन हो गया है, जिनकी आयु 75 वर्ष थी। उनके निधन की खबर को सहारा ग्रुप ने एक बयान के माध्यम से बताया और यह कहा कि उनकी मृत्यु कार्डियोरेस्पिरेटरी आरेस्ट के कारण हुई है।

image 80 Sahara Group: सहारा समूह के संस्थापक सुब्रत रॉय का लंबी बीमारी के बाद हुआ निधन

सुब्रत रॉय को उनकी सेहत में गिरावट के बाद रविवार को मुंबई के कोकिलाबेन धीरुभाई अंबानी हॉस्पिटल एंड मेडिकल रिसर्च इंस्टीट्यूट में एडमिट किया गया था। उनकी मौत 14 नवंबर को रात 10:30 बजे हुई। ग्रुप के बयान में कहा गया कि सुब्रत रॉय का निधन मेटास्टेटिक मैलिग्नेंसी, हाइपरटेंशन और डायबिटीज़ से उत्पन्न जटिलताओं के एक विस्तारित लड़ाई के बाद हुआ।

सहारा ग्रुप ने उन्हें “प्रेरणादायक नेता और कल्पनाशील” कहकर श्रद्धांजलि दी, कहते हुए, “सहारा इंडिया परिवार की ओर से हमें हमारे आदर्श ‘सहारश्री’ सुब्रत रॉय, सहारा के प्रबंधन कर्मचारी और अध्यक्ष के निधन की सूचना मिली है।”

शिक्षा

सुब्रत रॉय ने 1976 में गोरखपुर के गवर्नमेंट टेक्निकल इंस्टीट्यूट से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिग्री पूरी की। फिर उन्होंने गोरखपुर में व्यापार में कदम रखा, और 1978 में इसे सहारा इंडिया परिवार में बदल दिया, जिसने भारत के एक बड़े संघ का रूप लिया।

सफलताओ का सफर

सहारा ग्रुप ने 1992 में राष्ट्रीय सहारा – हिंदी भाषा का अख़बार – लॉन्च किया और बाद में सहारा टीवी के साथ टेलीविज़न दृष्टिकोण में कदम रखा जिसे सहारा वन में बदल दिया गया।

एक व्यापक चिट फंड व्यापार से शुरुआत करने वाले व्यापार बैरन के रूप में, उनकी सफलता के शिखर पर, मिस्टर रॉय ने एक एयरलाइन, एयर सहारा, टेलीविजन चैनल, वित्त, और अम्बी वैली परियोजना सहित एक सामर्थ्यशाली साम्राज्य पर काबू पाया।

इसे भी पढ़े : ‘प्रोटेक्ट IP एड्रेस इन कॉल’ : अब वॉट्सऐप कॉलिंग हुई ज्यादा सिक्योर,मेटा ने रोल-आउट किया नया फीचर, एक्सेस नहीं किया जा सकेगा लोकेशन

सहारा ग्रुप को कभी भारत के दूसरे सबसे बड़े नियोक्ता के रूप में माना गया था भारतीय रेलवे के बाद, जिसमें लगभग 12 लाख कर्मचारी शामिल थे, लेकिन उन्होंने अपनी वित्तीय क्षेत्र निगरानी से संबंधित तंत्र के कारण वित्तीय क्षेत्र में समस्याओं का सामना किया।

1993 में शुरू होने वाली एयर सहारा को अंत में पूर्ववत जेट एयरवेज को बेचा गया, जबकि सहारा ग्रुप के वित्त व्यापार की समस्याएं सुरक्षा एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (SEBI) के साथ एक विवाद के संबंध में मिस्टर रॉय को जेल में कुछ समय काटने पर मजबूर भी कर दिया था। ग्रुप का SEBI के साथ युद्ध अभी भी जारी है।

जाना पड़ा था जेल

2014 में भारत के सुप्रीम कोर्ट ने सुब्रत रॉय को सुप्रीम कोर्ट ने गिरफ्तार करने का आदेश दिया क्योंकि वे सुरक्षा और एक्सचेंज बोर्ड ऑफ़ इंडिया (SEBI) के साथ विवाद के संबंध में कोर्ट में नहीं पहुंचे थे। यह एक दीर्घकालिक कानूनी युद्ध का नतीजा था, जिससे उन्हें तिहाड़ जेल में समय बिताना पड़ा। उन्हें अंत में पैरोल पर रिहा किया गया।

उन्हें बहुत लोगो ने श्रद्धांजलि दी जिसमे समाजवादी पार्टी के मुख्य अखिलेश यादव भी शामिल हैं उन्होंने एक पोस्ट में एक्स पर कहा, “सुब्रत रॉय जी का निधन हमारे लिए एक भावनात्मक नुकसान है, क्योंकि वे सिर्फ एक सफल व्यापारी नहीं थे, बल्कि एक बहुत बड़े दिल वाले व्यक्ति भी थे, जिन्होंने अनेक लोगों की मदद की और उनका समर्थन किया।”

सुब्रत रॉय के परिवार में उनकी पत्नी, बेटा और भाई हैं।

इसे भी पढ़े : Nitish Kumar’s Controversial statement: महिलाओ पर आपत्तिजनक बयान देने के बाद नहीं थम रहा घमासान आलोचनाओं से घिरे नितीश, जानिये पूरा मामला

इसे भी पढ़े : Mrunal Thakur dating: बादशाह-मृणाल वायरल वीडियो में हाथ पकड़े हुए नज़र आए, बादशाह ने बताई मृणाल ठाकुर संग रिश्ते की पूरी सच्चाई, देखिये वीडियो


Fatal error: Uncaught TypeError: call_user_func_array(): Argument #1 ($callback) must be a valid callback, function "placeholder_comment_form_field" not found or invalid function name in /home/u543982711/domains/pmvishwakarmayojana.com/public_html/wp-includes/class-wp-hook.php:310 Stack trace: #0 /home/u543982711/domains/pmvishwakarmayojana.com/public_html/wp-includes/plugin.php(205): WP_Hook->apply_filters() #1 /home/u543982711/domains/pmvishwakarmayojana.com/public_html/wp-includes/comment-template.php(2648): apply_filters() #2 /home/u543982711/domains/pmvishwakarmayojana.com/public_html/wp-content/themes/generatepress_child/comments.php(43): comment_form() #3 /home/u543982711/domains/pmvishwakarmayojana.com/public_html/wp-includes/comment-template.php(1615): require('/home/u54398271...') #4 /home/u543982711/domains/pmvishwakarmayojana.com/public_html/wp-content/themes/generatepress/inc/structure/comments.php(227): comments_template() #5 /home/u543982711/domains/pmvishwakarmayojana.com/public_html/wp-includes/class-wp-hook.php(310): generate_do_comments_template() #6 /home/u543982711/domains/pmvishwakarmayojana.com/public_html/wp-includes/class-wp-hook.php(334): WP_Hook->apply_filters() #7 /home/u543982711/domains/pmvishwakarmayojana.com/public_html/wp-includes/plugin.php(517): WP_Hook->do_action() #8 /home/u543982711/domains/pmvishwakarmayojana.com/public_html/wp-content/themes/generatepress/inc/theme-functions.php(578): do_action() #9 /home/u543982711/domains/pmvishwakarmayojana.com/public_html/wp-content/themes/generatepress/single.php(29): generate_do_template_part() #10 /home/u543982711/domains/pmvishwakarmayojana.com/public_html/wp-includes/template-loader.php(106): include('/home/u54398271...') #11 /home/u543982711/domains/pmvishwakarmayojana.com/public_html/wp-blog-header.php(19): require_once('/home/u54398271...') #12 /home/u543982711/domains/pmvishwakarmayojana.com/public_html/index.php(17): require('/home/u54398271...') #13 {main} thrown in /home/u543982711/domains/pmvishwakarmayojana.com/public_html/wp-includes/class-wp-hook.php on line 310